जनपद इटावा में कोरोना के बाद से विद्यालयों का संचालन विधिवत चालू हो गया है लेकिन विद्यालय संचालक बच्चों के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं जिसमें गैस किट लगी हुई ओमनी वैन फर्राटा भरते हुए  नजर आ रही है 20 से 25 बच्चों को बैठा कर विद्यालय ले जाती लाती हैं जिनका नही कोई परमिट, नही फिटनेस, नहीं आरटीओ  पास, की हुई गाड़ियां नजर आती हैं विद्यालय संचालक पुरानी और गैस किट लगी हुई गाड़ियां इस्तेमाल कर रहे हैं जो कभी भी किसी बड़े हादसे को दावत दे सकते हैं इसी क्रम में काली पुरानी और बिना फिटनेस और बिना परमिट के मैजिक वैन इटावा में फर्राटे भरते नजर आ रही हैं जो कि सेंट मैरी कॉन्वेंट स्कूल में बच्चों को लाने ले जाने का काम करती हैं जिसमें कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है जिसमें 20 से 25 बच्चों को एक साथ बैठाया जाता है उसका जिम्मेदार आखिर कौन होगा? विद्यालय संचालक? वाहन मालिक?  या फिर प्रशासन?
जनपद इटावा में ऐसी दर्जनों गाड़ियां बिना परमिट, बिना सीएनजी गैस किट पास ,पुरानी और कबाड़ गाड़ियां बच्चों को विद्यालय लाने और ले जाने का काम कर रही हैं और विद्यालय संचालक अपने फायदे के लिए ऐसी पुरानी और कबाड़ गाड़ियों का इस्तेमाल कर रहे हैं
*अनिल चौधरी*
*सर्वोच्च दर्पण न्यूज़*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »