खाध पदार्थों पर लगायी गयी जीएसटी के विरोध मे केंद्रीय वित्त मंत्री भारत सरकार को संबोधित एक ज्ञापन सिटी मजिस्टे्रट सौंपा
-ं प्रांतीय अध्यक्ष वनवारी लाल कंछल के आवाहन पर उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने सौंपा ज्ञापन

  • उत्तर प्रदेश के ढाई करोड़ व्यापारीयों ने एक साथ विरोध किया- संतोष सिंह चैहान
    फोटो-01,02
    इटावा उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने प्रांतीय आवाहन पर पूरे प्रदेश में एक साथ सभी जिलों में भारत सरकार के द्वारा खाध पदार्थों पर लगायी गयी जीएसटी के विरोध में केंद्रीय वित्त मंत्री भारत सरकार को दोपहर 11 बजे कलेक्ट्रेट में सिटी मजिस्टे्रट के माध्यम से जो जिलाधिकारी द्वारा श्रीमती निर्मला सीतारमण केंद्रीय वित्त मंत्री भारत सरकार को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा गया।
    उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के जिला अध्यक्ष संतोष सिंह चैहान ने कहा कि प्रांतीय अध्यक्ष वनवारी लाल कंछल के निर्देश पर श्रीमती निर्मला सीतारमण केंद्रीय मंत्री भारत सरकार को संबोधित एक ज्ञापन सौंपा गया जिसमें केंद्र सरकार द्वारा 25 किलो के सिंगल पैकिंग और लेवल वाले अनब्रांडेड वस्तुओं पर 18 जुलाई से 5 प्रतिशत जीएसटी लागू किया है इसमें दाल चावल आटा दूध दही छाछ समेत खाद वस्तुओं की कीमतों से 2 से 5 रुपए प्रति किलो बढ़ोतरी हो गई है ब्लेड पेपर कैंची पेंसिल 79 चम्मच कांटे वाली चम्मच आदि कई वस्तुओं पर जीएसटी बना दिया गया है इस पहले जीएसटी 12ः था अब इसे 18ः कर दिया है इससे बच्चों की पढ़ाई पर प्रतिकूल असर पड़ रहा हैसोलर वाटर हीटर पर पहले जीएसटी 5ः थी अब 12ः कर दी गई है होटल में 1000 तक कमरे अभी तक जीएसटी के दायरे से बाहर थे अब इन पर 12ः जीएसटी देना होगाएल ई डी लाइट पर 18ः जीएसटी लागू किया गया है शिक्षा में इस्तेमाल होने वाली वस्तुएं, प्रिंटिंग व स्टेशनरी मैं इस्तेमाल होने वाले सामान पर कर लगाने से शिक्षा व्यवस्था आम आदमी से दूर हो जायेगी। खेती में काम आने वाली मशीन, सब्जियों के लिए काम आने वाली मशीनरी व खेती में अन्य इस्तेमाल होने वाली प्रमुख वस्तु पर कर लगाये जाने से खेती का सामान महंगा हो जाएगा। सोलर सिस्टम पर कर बढ़ाए जाने से वैकल्पिक ऊर्जा व्यवस्था प्रभावित होगी।इससे गरीब के घर की रोशनी चली गयी जिसका उत्तर प्रदेश के ढाई करोड़ व्यापारी एक साथ विरोध करते हैं।
    नगर अध्यक्ष ओम रतन कश्यप ने कहा कि सरकार को पर्याप्त मात्रा में जीएसटी के रूप में कर प्राप्त हो रहा है जिस कारण जीएसटी लागू किए जाते समय किए गए वादे को पूरा करने के लिए जीएसटी की दरें घटाने का समय है, न कि जीएसटी की दरें बढ़ाने का। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल ने मॉग करते हुये कहा बढ़ती हुई महंगाई को रोकने के लिए जीएसटी की बढ़ी हुई दरें तत्काल वापस ली जाए।
    ज्ञापन देने वालो में उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ एके शर्मा,नगर अध्यक्ष ओम रतन कश्यप,जिला सचिव आशिफ जादारान,नगर महामंत्री रमेश यादव, युवा नगर अध्यक्ष,अजय कुमार गुप्ता,नगर अध्यक्ष महिला सुनीता कुशवाहा, कोषाध्यक्ष शिखर पांडे,नगर संरक्षक अनबार हुसैन,नगर मंत्री शिवा ठाकुर,मुन्नी देवी, इकदिल महिला नगर अध्यक्ष कृष्णा राजपूत,सीमा देवी,गीता पाल,अनुपम देवी,कंचन कुशवाह,युवा शहर सचिव धर्मेंद्र दुबे आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »