उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी की जयंती के एक दिन बाद हिंसा में चार किसान सहित आठ लोगों की मृत्यु के मुख्य आरोपित केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री अजय कुमार मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा मोनू पर शिकंजा कसता जा रहा है। शनिवार देर रात गिरफ्तारी के बाद जेल भेजे गए आशीष मिश्र मोनू की पुलिस कस्टडी रिमांड पर सोमवार को सुनवाई के बाद मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएन) ने तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है।

लखीमपुर खीरी कांड के मुख्य आरोपित केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र के पुत्र आशीष मिश्र की तीन दिनों की पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर कर ली गई है। आशीष मिश्र 12 अक्टूबर सुबह दस बजे से 15 अक्टूबर सुबह दस बजे तक पुलिस कस्टडी में रहेंगे। सोमवार को दोपहर सीजेएम चिंता राम ने अभियोजन पक्ष की पुलिस कस्टडी रिमांड की अर्जी पर दोनों पक्षों की बहस सुनने के दो घंटे बाद फैसला सुनाया।

मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने पुलिस कस्टडी रिमांड मंजूर करने के साथ ही तीन शर्तें भी लगाई हैं। आदेश के मुताबिक आशीष मिश्रा की पुलिस रिमांड के दौरान न तो शारीरिक और न ही मानसिक प्रताड़ना दी जाएगी। पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद जब जेल में दाखिल किया जाएगा तो आशीष मिश्र की मेडिकल कराया जाए। पूछताछ के दौरान अभियुक्त के वकील उचित दूरी पर रह सकते हैं। मजिस्ट्रेट ने कहा कि जेल अधीक्षक लखीमपुर खीरी व विवेचक को एक-एक प्रति भेज दी जाए।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »